0 Comments
Spread the love

भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ पदाधिकारियों और प्रदेश अध्यक्षों की रविवार को दिल्ली में अहम बैठक हुई. इस बैठक में राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राज भी पहुंचीं. यहां उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात की. राजस्थान में अभी कई विधानसभा क्षेत्रों में उपचुनाव भी होने वाले हैं. ऐसे में इस बैठक को बेहद महत्वपूर्ण माना जा रहा है. 
बीजेपी की इस बैठक में राजस्थान के बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनिया भी मौजूद रहे. पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की पीएम मोदी और राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से हुई इस मुलाकात को काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है. बता दें कि कांग्रेस में कलह के बाद राजस्थान बीजेपी में भी घमासान मचा हुआ है.
पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे का राजस्थान का दौरा शुरू होने वाला है, उससे पहले बीजेपी विधायक प्रताप सिंह सिंघवी ने वसुंधरा राजे को राज्य की कमान देने की मांग की, तो वहीं जयपुर के मालवीय नगर से विधायक और पूर्व मंत्री कालीचरण सर्राफ ने कहा है कि वसुंधरा राजे मुख्यमंत्री थीं और हमारी भावी मुख्यमंत्री हैं. वसुंधरा गुट की तरफ से लगातार उठ रही इस मांग को लेकर बीजेपी के अंदर बेचैनी है. 
वहीं बीजेपी में मची इस खींचातानी को लेकर प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया कह चुके हैं, कि वसुंधरा राजे हमारी सम्मानित नेता हैं, मगर वसुंधरा राजे के समर्थकों ने कोटा में वसुंधरा राजे की रैली करने का ऐलान कर के सीधे-सीधे पार्टी को चेतावनी दे दी है.

बताया जा रहा है कि वसुंधरा राजे लंबे समय बाद राजस्थान विधानसभा के बजट सत्र में हिस्सा लेने के लिए 24 फरवरी को जयपुर आएंगी. लेकिन इससे पहले निगाहें 21 फरवरी को दिल्ली में हुई बीजेपी की बैठक के बाद के घटनाक्रम पर टिकी हुई हैं कि इस बैठक के बाद क्या होने वाला है. 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *