0 Comments
Spread the love

राज्य सरकार की ओर से कॉलेजों में विद्यार्थियों को छात्रवृत्ति नहीं देने के फैसले को लेकर विरोध बढने लगा है। मंगलवार को दयानन्द महाविद्यालय में भी एबीवीपी के नेतृत्व में विद्यार्थियों ने विरोध जताया। साथ ही प्राचार्य को कलेक्टर के नाम ज्ञापन सौंपकर छात्रवृति जारी नहीं करने पर कॉलेज बंद कराने की चेतावनी दी।
कॉलेज के छात्रसंघ के अध्यक्ष सीताराम चौधरी ने बताया कि कारोना महामारी के कारण मार्च 2020 से शिक्षण व्यवस्था पूरी तरह से ठप रही, लिहाजा स्कूल, कॉलेज, यूनिवर्सिटी समेत सभी शिक्षण संस्थान बंद रखे गए थे। करीब 10 महीने तक बंद रहे शिक्षण संस्थानों में विद्यार्थियों को बिना परीक्षा के प्रमोट किया गया। इस कारण सालाना 5000 रुपए की छात्रवृत्ति पर रोक लगा दी। छात्रवृत्ति पर रोक लगाने का निर्णय किसी भी प्रकार से विद्यार्थी हित में नहीं है। उनका कहना है कि छात्रवृत्ति बहाली नहीं हुई तो ABVP जरूरत पड़ने पर धरना और प्रदर्शन के साथ कॉलेज बंद कराने का कठोर निर्णय भी ले सकती है। जिसकी समस्त जिम्मेदारी सरकार की होगी।
गौरतलब है कि सम्राट प्रथ्वीराज चौहान राजकीय कॉलेज में भी NSUI और ABVP की ओर से पिछले दिनों विरोध जताया गया और छात्रवृति शुरू करने की मंाग को लेकर प्राचार्या को ज्ञापन भी सौंपे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *